क्या आपने हाल ही एक नयी ब्लॉग या वेबसाइट बनाई है और आप उसे गूगल में रैंक कराना चाहते है?

ब्लॉग बनाना बहुत आसान है लेकिन उसे गूगल में रैंक करवाना बहुत ही मुश्किल है… पर Quality content, सही SEO, content marketing, Backlinks, Promotion आदि के द्वारा आप अपनी नयी वेबसाइट को आसानी से गूगल में रैंक करा सकते है।

आज इस आर्टिकल में, मैं आपको कुछ बेस्ट Best SEO tips के बारे में बताऊंगा जो आपकी नयी वेबसाइट को गूगल में रैंक करने में मदद करेंगे।

Website Google में Index है या नहीं चेक करें

साइट को सर्च रिजल्ट आने के लिए index की जरूरत पड़ती है। यदि आपकी साईट गूगल सर्च रिजल्ट में नजर नहीं आ रही है या रैंक नहीं कर रही है, तो आपको सबसे पहले यह चेक करना होगा आपकी वेबसाइट गूगल में index हो रही है या नहीं…

आप इसे आसानी से चेक कर सकते है। बस आपको गूगल सर्च में site:yourdomain.com टाइप करने की जरूरत है। यदि सर्च रिजल्ट में आपकी साइट नहीं दिखती है, तो इसका साफ मतलब है आपकी साइट गूगल में index नही है। आप नीचे आप स्क्रीनशॉट देख सकते है:


New Website Ko Google Me Rank Kaise Kare

आपने एक बढ़िया ब्लॉग पोस्ट लिखा और उसे पब्लिश कर दिया। लेकिन उसपर आपको ट्रैफ़िक नहीं मिला… तो आपकी अगली रणनीति क्या होगी?

खैर यहाँ मैं आपको कुछ SEO strategy बताने वाला हूँ। यह सब कुछ थोड़ा रिसर्च और टिप्स और ट्रिक्स के बारे में हैं, जिससे आप अपने नयी ब्लॉग या वेबसाइट को रैंक कर सकते है।

Valuable Content पब्लिश करें

यदि आप अपनी वेबसाइट को गूगल के पहले पेज में रैंक करवाना चाहते है, तो विजिटर के लिए उपयोगी और Informative ब्लॉग पोस्ट लिखें। गूगल कंटेंट की क्वालिटी पर अधिक फोकस करता है और उन्हें सर्च इंजन में टॉप रैंक प्रदान करता है।

हालंकि जब गूगल किसी कंटेंट को रैंक करता है, तो वह कई प्रकार की Ranking factor का उपयोग करता है। लेकिन Content quality अभी भी उन सब में सबसे महत्वपूर्ण है। 

इसके अलावा आपकी कंटेंट की length सर्च इंजन में बहुत अधिक महत्व रखती है। बड़ी कंटेंट छोटी कंटेंट की तुलना में सर्च इंजन में अच्छी रैंक करती है। इसलिए हमेशा Detailed, high-quality, lengthy posts लिखने का प्रयास करें। लेकिन एक बात का ध्यान रखें आपनी कंटेंट को बड़ा करने के लिए उसमें बकवास चीजे न लिखे।

सही तरीके से Keyword Research करें

यदि आप अपनी नयी वेबसाइट को गूगल में रैंक करना चाहते है, तो आपको सही तरीके से Keyword Research करने आना चाहिए। आपको अपने Niche में लोगों द्वारा पूछे जाने वाले प्रश्नों के आसपास कीवर्ड रिसर्च करने की आवश्यकता है।

यहां नीचे मैंने बताया है Keyword research कैसे किया जाता है:-

a. Use Google Suggest

Complete SEO Tutorial

Best keywords प्राप्त करने का यह सबसे आसान और अच्छा तरीका है। Google सर्च बॉक्स में बस अपने टॉपिक से संबंधित कीवर्ड सर्च करें, यह पिछली खोजों के अनुसार सुझाव देना शुरू कर देगा।

यहां से, कीवर्ड को चुने और किसी Best keyword research tool का उपयोग करके इसकी competition, monthly search, CPC इत्यादि का पता लगाये।

ये कीवर्ड आपकी आर्टिकल को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए बहुत अच्छे हो सकते हैं क्योंकि यह सीधे गूगल सर्च डेटा से आता है।

b. Use Related Google Search

Complete SEO Tutorial

Google में सर्च करने के बाद, आप अपने सर्च रिजल्ट के नीचे कुछ संबंधित Searches को देखते होंगे जिन्हें आप एक कीवर्ड के रूप में उपयोग कर सकते हैं।

c. Using Google Keyword Planner


Google Keyword Planner गूगल द्वारा डेवलप्ड किया गया सबसे अच्छा free keyword research tool है। आप इसे किसी भी niche (टॉपिक) के लिए उपयोग कर सकते हैं।

इसका उपयोग करके आप keyword competition, monthly searches, CPC आदि बहुत कुछ देख सकते हैं।

अपनी कंटेंट के लिए हमेशा high searches और low competition वाली कीवर्ड चुनें।

d. Find Question Keywords

Question keywords आपकी कंटेंट को और अधिक आकर्षक बनाते हैं और high CTR प्राप्त करने में सहायता करते हैं।

इस तरह के कीवर्ड ब्लॉग पोस्ट के लिए बहुत उपयोगी होते हैं।

लेकिन Question Keywords कैसे ढूंढें?

इसके लिए, आप Answer The Public का उपयोग कर सकते हैं।

यह टूल पूरी तरह से फ्री है और Google और Bing सर्च का उपयोग करके Keyword Suggest करता है।

इसका इंटरफ़ेस उपयोग करने में बहुत आसान है जो एक unique proposition और शानदार विज़ुअलाइजेशन के साथ आता है।

Complete SEO Tutorial

इसके अलावा आप Question Keywords खोजने के लिए Quora, Forums और Q&A वेबसाइट का उपयोग कर सकते है।

Long Tail Keywords का उपयोग करें

3 से अधिक शब्दों से बने कीवर्ड को “Long Tail Keywords” कहते है।

Long Tail Keywords बहुत ज्यादा टार्गेटेड होते है और ये वेबसाइट की रैंकिंग बढाने में अहम भूमिका निभा सकते है।

Short Tail Keywords से सर्च इंजन में बहुत हीं कम सर्च किया जाता है, क्योंकि सर्च इंजन एक्यूरेट रिजल्ट नहीं देगा। आप भी जब सर्च इंजन में कुछ सर्च करते होंगे, तो  एक पूरा सवाल हीं लिख कर सर्च करते होंगे। कारण आपको accurate रिजल्ट मिलें।

Long Tail Keywords उपयोग करने के Benefits

  • Less competition.
  • Better conversion rates.
  • Search result में अच्छा रैंक करते है.
  • Search engines से अधिक traffic प्राप्त करने में मदद करते है.

Internal Linking करें

जब आप अपने नए आर्टिकल से पुराने आर्टिकल को लिंक करते है, तो इसे internal linking कहा जाता है। यह आपकी कंटेंट को सर्च इंजन और यूजर दोनों के लिए Relevant बनाते हैं।

Internal linking के कई सारे फायदे होते है:

यहाँ नीचे Internal linking के कुछ लाभ दिए गए है:

आपकी कंटेंट को और अधिक जानकारीपूर्ण बनाता

यह सर्च इंजन और Users को आपकी वेबसाइट के valuable pages के बारे में बताता है।

Internal linking आपके पोस्ट को Users के लिए अधिक जानकारीपूर्ण बनाता हैं और यह विजिटर को एक पेज से दूसरे पेज पर जाने में भी मदद करता है।

Google उन पेज को टॉप रैंक प्रदान करता है जो यूजर के लिए उपयोगी होती हैं।

बेहतर Crawl और Index में मदद करते है

जब आपका ब्लॉग नया होता है, तो सर्च इंजन आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को जल्दी से इंडेक्स नहीं करता है। इसलिए इंटरनल लिंकिंग बहुत जरूरी है।

जब सर्च इंजन क्रॉलर आपकी वेबसाइट पर आते हैं, तो वे साइट Structure समझने, content किस बारे में है और Better index के लिए Links को फॉलो करते हैं।

हमेशा Strong और स्मार्ट तरीके से Internal Linking करें ताकि क्रॉलर आपकी साईट को Deeply क्रॉल करें।

 Internal Linking गूगल जैसे सर्च इंजन के लिए एक बेहतर Crawling और indexing experience प्रदान करता है।

अगर क्रॉल करने में आसनी होगी, तो SERPs में बेहतर रैंक होगी।

पुरानी पोस्ट की रैंक और Pageviews बढाता है

Internal link आपके पुराने पोस्ट को लिंक जूस पास करता है, जो रैंकिंग में सुधार करता है। साथ ही आपकी पुरानी पोस्ट की Pageviews को भी बढ़ाता है।

यदि आप लंबे समय से ब्लॉग चला रहे हैं, तो आपके पास बड़ी संख्या में ब्लॉग पोस्ट होगी, और आपकी पुराने पोस्ट अब उतनी अच्छी ट्रैफ़िक और रैंकिंग प्राप्त नहीं कर पा रही होगी।

लेकिन, internal linking और भी पढ़ने का आप्शन देता है। यदि आपके पास एक पुराना आर्टिकल है जो रीडर को बहुमूल्य जानकारी प्रदान कर सकता है, तो इसे अपने नए आर्टिकल से लिंक करें।

अपनी पुरानी कंटेंट को प्रमोट करने और पेजव्यू बढ़ाने के लिए यह एक शानदार तरीका है। यहाँ एक गाइड है – Blog Posts Publish करने के बाद कैसे प्रमोट करें

Bounce Rate कम करता है

Bounce rate SEO का एक महत्वपूर्ण पहलू है। यदि विज़िटर आपकी पोस्ट पर आते है और तुरंत बाहर निकल जाता है तो आपकी साइट की बाउंस दर बढ़ जाती है। यह आपकी Website SEO और सर्च इंजन रैंकिंग को प्रभावित करती है।

बेहतर SEO के लिए, बाउंस रेट बहुत महत्वपूर्ण है और Internal linking बाउंस रेट कम करने का सबसे अच्छा तरीका है। यह विजिटर को लंबे समय तक वेबसाइट पर रोके रखने में मदद करता है।

यहाँ नीचे एक डिटेल्ड गाइड है:- Internal Linking क्यों और कैसे करें

वेबसाइट की Loading Speed ठीक करें

यदि आपकी साइट लोड होने में अधिक समय लेती है, तो गूगल आपकी साईट को सर्च रिजल्ट पेज में अच्छी रैंक नहीं देगा। कारण गूगल Page speed को एक ranking factor के रूप में उपयोग कर रहा है। इसलिए आपको इस पर ध्यान देने की जरूरत है।

फास्ट लोडिंग वेबसाइट ranking और user experience दोनों को प्रभावित करती है और सर्च रिजल्ट में अच्छी रैंक करती है।

Website loading speed को बेहतर करने के लिए Quick tips

  • PHP 7.2 में upgrade करें
  • अपनी Image size को Optimize करें
  • केवल उपयोगी plugins को रखें
  • Unwanted media को Delete करें
  • CSS and JS Files को Minify करें
  • अच्छी Cache plugin का उपयोग करें
  • Redirects को Minimize करें
  • अच्छी वेब होस्टिंग का उपयोग करें
  • Database को ऑप्टिमाइज़ करें


High-Quality Backlinks बनाएं

Backlinks एक बहुत ही पुरानी Google ranking factors हैं जिसे गूगल किसी कंटेंट को पहले पेज पर रैंक करने के लिए इस्तेमाल करता है। यह आपकी साईट की Domain authority, website traffic और website ranking को बढ़ाने में मदद करता है।

लेकिन bad/spammy/buy या low-quality backlinks आपके वेबसाइट की रैंकिंग को बहुत नुकसान पहुंचा सकते है। हो सकता है आपकी कंटेट सर्च रिजल्ट में नजर भी नहीं आये। 

यदि आप अपनी website ranking increase करना चाहते है, तो हमेशा high-quality backlinks बनाने का प्रयास करें। 100 quality backlinks 1000 low-quality backlinks के बराबर होते हैं।

Backlinks आपकी वेबसाइट की ट्रैफिक और रैंकिंग में बड़ा बदलाव ला सकते हैं।

अपनी वेबसाइट को Mobile Friendly बनाये

आधे से अधिक सर्च मोबाइल द्वारा की जाती हैं। इसलिए मोबाइल user experience को बेहतर करने के लिए Google मोबाइल friendliness को भी एक ranking factor के रूप में उपयोग कर रहा है।

यदि आपकी साइट mobile friendly नही है, तो गूगल मोबाइल सर्च के लिए आपकी साइट रैंकिंग को कम कर देगा। जिससे आपकी साइट गूगल सर्च रिजल्ट में टॉप रैंक नही कर पायेगी और आप अपनी साइट के लिए बहुत सारे traffic खो देंगे।

आपकी साइट mobile friendly है या नही इसे चेक करने के लिए आप गूगल द्वारा डेवलप्ड Mobile Testing Use कर सकते है। 

Fresh और New Posts नियमित रूप से पब्लिश करें

गूगल उन ब्लॉगों को अधिक महत्व देता है, जो नियमित रूप से क्वालिटी पोस्ट पब्लिश करते हैं। यह आपकी रैंकिंग और ब्लॉग रीडर दोनों को बढ़ाता है। रीडर उन ब्लॉग को पढना अधिक पसंद करते है, जो रोज नए- नए और Unique idea के साथ कंटेंट पब्लिश करते है।

यदि आप एक सप्ताह में 4 पोस्ट पब्लिश करते हैं, लेकिन अगले सप्ताह कुछ भी पब्लिश नहीं करते हैं, तो आपकी यह रणनीति सप्ताह में दो पोस्ट प्रकाशित करने से भी बदतर है।

अखारी सोच

यहाँ मैंने आपको जो रणनीतियाँ बताई वो 100% आपके नयी वेबसाइट को रैंक करने में मदद करेंगे। लेकिन रातों रात आपकी वेबसाइट रैंकिंग को बूस्ट नही कर सकते है। यह एक long time process है। इसमें आपको थोड़ा धैर्य रखना होगा।

लेकिन एक बात का ध्यान रखें Quality content बहुत ही मवत्वपूर्ण है। यदि आप अपनी साइट पर ये सभी रणनीतियो का उपयोग करते है पर कंटेंट की क्वालिटी पर ध्यान नही देते है, तो आपकी सारी मेहनत बेकार है। गूगल आपके कंटेंट को सर्च रिजल्ट में अच्छी रैंक नही देगा और आपकी वेबसाइट सर्च इंजन से ट्रैफिक प्राप्त नहीं कर पायेगी।

यदि मुझसे Website ranking बढ़ाने की कोई रणनीति छूट गयी हो, तो आप मुझे कमेन्ट में बता सकते है। अगर यह आर्टिकल आपके लिए मददगार साबित हुई है, तो इसे शेयर करना न भूलें! 

महत्वपूर्ण लिंक